May 17, 2022

केदारनाथ धाम में एक दिन में 13 हजार यात्रियों को ही जाने की अनुमति


रुद्रप्रयाग। उत्तराखंड में चारों धामों में आने वाले तीर्थयात्रियों की सुविधा एवं यहां मौजूद व्यवस्थाओं के आधार पर ही यात्रियों को धामों में भेजा जा रहा है। जिन यात्रियों का पंजीकरण होगा वही यात्रा में प्रवेश कर सकेंगे अन्य यात्रियों को बिना पंजीकरण के वापस लौटना पड़ सकता है। केदारनाथ धाम में एक दिन में 13 हजार यात्रियों को ही जाने की अनुमति दी जाएगी। ताकि यात्रियों को यहां दिक्कतें न उठानी पड़े।
पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल के निर्देशों का पालन करते हुए पुलिस द्वारा तीर्थयात्रियों से आग्रह किया गया है कि केदारनाथ धाम की यात्रा पूरे छह महीने चलेगी। ऐसा नहीं है कि यात्रा कुछ दिन के लिए है इसलिए यात्री पूरी व्यवस्था और पंजीकरण के साथ ही यात्रा करें। जनपद पुलिस अपने स्तर से यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं के पंजीकरण को नियमित चेक कर रही है। 12 मई से अब तक पुलिस ने बिना पंजीकरण के 1000 यात्रियों को वापस लौटा दिया है। साथ ही उनसे अनुरोध किया है कि वह पंजीकरण कर ही यात्रा पर आएं। पुलिस ने बताया कि यात्री पंजीकरण लिंक http://registrationandtouristcare.uk.gov.in पर अपना पंजीकरण कर सकते हैं।
पुलिस अधीक्षक के निर्देशों का हवाला देते हुए क्षेत्राधिकारी रुद्रप्रयाग प्रबोध कुमार घिल्डियाल के नेतृत्व में जनपद रुद्रप्रयाग पुलिस द्वारा आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा को देखते हुए दिन एवं रात्रि में आने वाले श्रद्धालुओं के पंजीकरण को चेक किया जा रहा है। पंजीकरण वाले यात्री व वाहनों को आगे जाने दिया जा रहा है तथा बिना पंजीकरण वाले यात्रियों से विनम्रता पूर्वक आग्रह करते हुए पंजीकरण के बाद ही आगे जाने को कहा जा रहा है।

AllEscort