April 20, 2021

जल जीवन मिशन के दूसरे चरण की शीघ्रता से करे शुरुआत बिशन सिंह चुफाल पेयजल मंत्री

बागेश्वर ।  जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रदेश के प्रत्येक घर में नल से जल उपलब्ध कराने के लिए किये जा रहें कार्यो के संबंध में प्रदेश के मा0 पेयजल मंत्री बिशन सिंह चुफाल ने वीसी के माध्यम से प्रदेश के जिलाधिकारियो, मुख्य विकास अधिकारियों सहित संबंधित अधिकारियों के साथ जल जीवन मिशन के तहत किये जा रहे कार्यो की प्रगति की जानकारी ली। उन्होने वीसी के माध्यम से कहा कि जल जीवन मिशन योजना भारत सरकार एवं राज्य सरकार की महत्वपूर्ण योजना है जिसके माध्यम से प्रत्येक परिवार को शुद्ध जल उपलब्ध कराना है। इसके लिए सभी अधिकारियों को प्राथमिकता के साथ कार्य करने की आवश्यकता हैं। उन्होने कहा कि प्रथम चरण में सभी जिलों के द्वारा बेहतर ढंग से कार्य किया गया हैं, तथा द्वितीय चरण के कार्यो को भी शीर्ष प्राथमिकता से करने को कहा, जिसके लिए उन्होने जल्द से जल्द डीपीआर तैयार करने के निर्देश दियें, ताकि योजनाओं पर शीघ्रता से शीघ्र कार्य शुरू किया जा सके। उन्होने यह भी निर्देश दियें कि वर्तमान ग्रीष्मकालीन के मध्यनजर जिन गांवों में पानी अत्यधिक समस्या हैं, उन गांवो में प्राथमिकता से कार्य करने के निर्देश दियें, इसके अतिरिक्त उन्होने वैकल्पिक व्यवस्था के लिए टैंकरों आदि की व्यवस्था समय से करने के निर्देश दियें। उन्होने यह भी निर्देश दियें कि जो सडक मार्ग से दूरी के गांव हैं उनमें घोडे-खच्चर आदि के माध्यम से भी पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय। उन्होने यह भी निर्देश दियें कि जिन क्षेत्रों में वाटर लेवल कम है उन क्षेत्रों को चिन्हित करते हुए उनमें प्राथमिकता से पहले कार्य शुरू करने को कहा, ताकि क्षेत्र की जनता को पानी की समस्या से जूझना न पडें। उन्होने यह भी कहा कि जिन आंगनबाडी केन्द्रों, विद्यालयों, पंचायत घरों व चिकित्सालयों में पानी के कनेक्शन उपलब्ध नहीं करायें गये हैं ऐसे स्थानों में शीर्ष प्राथमिकता के साथ पानी के कनेक्शन उपलब्ध कराने को कहा। उन्होने यह भी कहा कि जो योजनायें दो करोड से अधिक की है ऐसी योजनाओं का आंकलन पूर्ण परीक्षण करते हुए शासन को प्रेषित करने को कहा, ताकि शासन स्तर से इस पर आवश्यक कार्यवाही जल्द से जल्द सुनिश्चित की जा सकें। जनपद बागेश्वर की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी विनीत कुमार ने मा0 मंत्री को अवगत कराया कि जनपद में निर्धारित लक्ष्य 52156 के सापेक्ष कुल 46812 परिवारों को स्वच्छ पेयजल कनेक्शन उपलब्ध करा दियें गये हैं तथा द्वितीय चरण में 78 योजनाओं पर कार्य पूर्ण कर लिया गया है। उन्होने कहा कि जनपद के दो सौ राजस्व गांवों में बडी योजनायें हैं जिन पर कार्यवाही गतिमान हैं। उन्होने कहा कि जनपद में हर घर को नल से जल उपलब्ध कराने के लिए जल संस्थान व पेयजल निगम के अधिकारियों के साथ निरंतर समीक्षा की जा रही है। तथा जो पुरानी योजनायें हैं उन पर प्राथमिकता से कार्य करने के निर्देश दियें गयें है। उन्होने कहा कि जनपद में आंगनबाडी केन्द्रों एवं विद्यालयों में शत-प्रतिशत पेयजल कनेक्शन उपलब्ध करा दियें गये हैं तथा शेष 105 पंचायत भवनों में पेयजल संयोजन की कार्यवाही गतिमान है। उन्होने कहा कि ग्रीष्मकालीन के मध्यनजर पेयजल ग्रस्त गांवों में पानी की उपलब्धता बनायें रखने के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ आवश्यक बैठक की गयी हैं तथा जनपद में पेयजल ग्रस्त 42 गांव एवं वार्डो को चिन्हित किया गया हैं, जिसमें टैंकरों के माध्यम से पेयजल व्यवस्था सुचारू करने के लिए जल संस्थान को आवश्यक दिशा निर्देश दियें गयें है। वीसी में मुख्य विकास अधिकारी डीडी पंत, परियोजना निदेशक शिल्पी पंत, अधि0अभि0 पेयजल निगम सीपीएस गंगवार, सिंचार्इ एके जॉन, सहायक अभियंता जल संस्थान सी0एस0देवडी, सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहें।

 

Shares
error: Content is protected !!