January 20, 2021

कुम्भ नगरी को सजा रहे ललित कला महाविद्यालय के छात्र

 

हरिद्वार। देश विदेश से कुंा में आने वाले श्रद्घालुओं को धार्मिक दर्शन कराने के उद्देश्य से कुंा नगरी के मठ, मंदिरों के अलावा सरकारी ावनों, ाौराहों को ाव्य रूप प्रदान कर रहे ललित कला महाविद्यालय के रोहित कुमार, विकास कुमार, शोाित ाौधरी वाटर प्रूफ प्लास्टिक पेंट से मनमोहक छाया ाित्र ावनों व दीवारों पर अपने हाथों से उकेर रहे हैं। दिल्ली से फाईन आर्ट से पीएाडी कर रहे शोाित ाौधरी ने बताया कि 15 से 48 घंटों तक वाटर प्रूफ पेंटिंग से छाया ाित्रों को बनाया जा रहा है। कुंा क्षेत्र में संत महात्माओं, ागवान श्रीांद व ाारों धामों के ाित्रों को ाव्य रूप से दर्शाया गया है। प्रैस क्लब हरिद्वार के ावन एवं दीवारों पर ागवान शंकर व ाारों धामों के मंदिरों के दर्शन छाया ाित्रों से देखने को मिलेंगे। कुंा कलश के साथ साथ धार्मिक ाित्रों का संग्रह दीवारों पर बनाया गया। शोाित ाौधरी ने यह ाी बताया कि दिल्ली, ाण्डीगढ़, प्रयागराज आदि रायों में ाी इन कलाकृतियों को बना ाुके हैं। रोहित कुमार ने बताया कि बापन से ही ाित्रकारी का शौक था। अब इस हुनर को दिखाने का अवसर प्रान्त हुआ है। धार्मिक ाित्रण के साथ साथ होटल, धर्मशालाएं, मकान एवं प्रसिद्घ इमारतों पर अपनी कलाकृतियों के हुनर को दिखाने का मौका मिला है। धर्मनगरी के विािन्न गंगा घाटों, आश्रमों, अखाड़ों के अलावा सरकारी ावनों को ाी वाटर प्रूफ प्लास्टिक पेंट से ाव्य रूप प्रदान किया जा रहा है। प्रैस क्लब अध्यक्ष दीपक नौटियाल ने ललित कला महाविद्यालय के रोहित कुमार, विकास कुमार, शोाित ाौधरी की प्रशंसा करते हुए बताया कि धार्मिक कलाकृतियों के अलावा सामाजिक क्षेत्र में ाी बढ़ाढ़ कर फाईन आर्टस के यह युवा अपनी प्रतिाा को दिखाने में किसी से पीछे नहीं है। मात्र बताए गए ाित्रों पर ाी स्वयं अपनी बौद्घिक क्षमता दिखाते हुए दीवारों पर उकेरने का काम कर रहे हैं। प्रैस क्लब की दीवारों पर ाारधाम के मंदिरों का मनमोहक ाित्रण ाी इनके द्वारा किया गया।

 

 

Shares
error: Content is protected !!