January 20, 2021

डीएम ने की उत्तरायणी मेले की तैयारियों की बैठक

 

बागेश्वर ।  बागेश्वर में आयोजित होने वाला धार्मिक, पौराणिक एवं ऐतिहासिक उत्तरायणी मेला-2021 के आयोजन के लिए की जाने वाली तैयारियों के संबंध में जिलाधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में तहसील सभागार में बैठक आयोजित की गयी, जिसमें अध्यक्ष नगर पालिका बागेश्वर सुरेश खेतवाल, पुलिस अधीक्षक मणिकांत मिश्रा सहित वरिष्ठ नागरिक एवं जनप्रतिनिधि व जिला स्तरीय अधिकारियों ने प्रतिभाग किया।
बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी विनीत कुमार ने कहा कि वर्तमान समय में कोरोना संक्रमण के चलते जो भी धार्मिक गतिविधियां संचालित की जानी हैं वे स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार ही किये जाने हैं, जिसमें सभी नियमों का कडार्इ से पालन किया जाना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण इस बार का उत्तरायणी मेला विगत वर्षो की भांति उस भव्य स्वरूप में आयोजित नहीं होगा इसमें केवल धार्मिक अनुष्ठान के साथ गंगा स्नान व जनेऊ संस्कार ही चिन्हित स्थानों पर ही किये जा सकेगे तथा इस बार मेले में कोर्इ भी सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं व्यापारिक गतिविधियां तथा विकास प्रदर्शनी स्टॉल आदि नहीं लगायें जायेगे।
बैठक में जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दियें कि उत्तरायणी मेले में आयोजित होने वाले धार्मिक अनुष्ठान के लिए सभी व्यापक व्यवस्थायें समय से सुनिश्चित की जाय। उन्होने सरयू घाट एवं सूरजकुण्ड एवं मंदिरों एवं के मुख्य चौराहों को विद्युत मालाओं से प्रकाशमान करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही सभी घाटों की साफ-सफार्इ व्यवस्था एवं अस्थार्इ शौचालय की व्यवस्था करने हेतु नगर पालिका, नगर पंचायत एवं सिंचार्इ विभाग को समय से करने के निर्देश दियें। उत्तरायणी मेले के अवसर पर मुख्य चौराहों/मार्गो पर स्थान चिन्हित कर वहां से आने वाले लोगो की थर्मल स्क्रींनिंग करने, उन्हें अनिवार्य रूप से मॉस्क एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने, सैनेटार्इजेशन तथा हाथ धोने के लिए व्यवस्था पूर्ण करने के निर्देश दिये तथा इसके साथ ही जल संस्थान को मुख्य स्थानों एवं मोबार्इल शौचालय में पेयजल आपूर्ति समय से करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही मुख्य स्थानों एवं चौराहों पर अलाव जलाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाय। उन्होने पुलिस विभाग को भी निर्देश दियें कि शांति एवं यातायात व्यवस्था बनायें रखने के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित की जाय तथा मुख्य स्थानों पर सीसी टीवी कैमरे की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों से अपेक्षा की हैं कि मेले मे आने वाले लोगो को जागरूक करने के लिए सभी का सहयेाग जरूरी है, इसलिए वे भी अपने स्तर से आने वाले लोगो को सोशल डिस्टेसिंग, मॉस्क का प्रयेाग करने तथा सेनेटार्इजेशन का उपयोग करने को प्रेरित करें।
बैठक में तय किया गया है कि उत्तरायणी मेले के शुभारम्भ के अवसर पर कोविड सत्यग्रह एवं कुलीबैगारी प्रथा को 100 वर्ष को पूर्ण होने पर रैली का आयोजन किया जाय जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित की जाय जिसमें नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाय, तथा इसके लिए जो भी व्यवस्थायें की जानी है उन्हें समय से पूर्ण की जाय। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये है कि मेले में आवश्यक स्वस्थ्य व्यवस्थायें सुनिश्चित की जाय जिसमें सभी डॉक्टरों की टीम सहित सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित कर ली जाय।
बैठक में पुलिस अधीक्षक मणिकांत मिश्रा ने अवगत कराया है कि उत्तरायणी मेले के लिए सभी सुरक्षा एवं यातायात व्यवस्था की सभी व्यवस्थायें सुनिश्चित कर ली गयी है जिसमें मेले को 02 जोन एवं 05 सैक्टर बनाये गये है जिसमें यातायात व्यवस्था को सुनिश्चित करने के लिए 07 बैरियर प्वार्इंट बनाये गये है, जिसमें गरूड़ रोड़, भराड़ी टैक्सी स्टैण्ड, डिग्री कालेज, काण्डा रोड़, ताकुला, अमसरकोट आदि चौराहों पर बैरियर लगाये जायेंगे। उप जिलाधिकारी बागेश्वर योगेन्द्र सिंह ने अवगत कराया है कि उत्तरायणी मेले में आयोजित होने वाले धार्मिक अनुष्ठानों के लिए मेले क्षेत्र को 02 जोन एवं 05 सैक्टरों में बांटा गया है जिसमें जोनल एवं सैक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती कर दी गयी है। अधि0अधि0 नगरपालिका राजदेव जायसी ने अवगत कराया है कि मेले में 12 स्थानों में अलाव जलाने की व्यवस्था कर ली गयी है तथा सभी घाटों की साफ सफार्इ व्यवस्था, रंगरोगन आदि की व्यवस्था की जा रही है तथा सरयू नदी में एक अस्थार्इ पुल का भी निर्माण किया जायेगा।
बैठक में अध्यक्ष नगरपालिका सुरेश खेतवाल, अपर जिलाधिकारी हेमन्त कुमार वर्मा, जिला विकास अधिकारी के0एन0 तिवारी, मुख्य कृषि अधिकारी बी0पी0 मौर्य, अधि0अभि0 जलसंस्थान एम0के0टम्टा, विद्युत भाष्करानंद पाण्डेय, अपर चिकित्साधिकारी एन0एस0 टोलिया, जिला पर्यटन अधिकारी कीर्ति चन्द्र आर्या, सीओ विपिन चन्द्र पन्त, कोतवाल डी0आर0वर्मा, तहसीलदार नवाजिश खलीक, अध्यक्ष व्यापार मंडल हरीश सोनी, वरिष्ठ नागरिक रणजीत सिंह बोरा, इन्द्र सिंह परिहार, दलीप सिंह खेतवाल, गोविन्द सिंह भण्डारी, जयन्त भाकुनी सहित जनपद स्तरीय अधिकरी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहें।

Shares
error: Content is protected !!