January 20, 2021

बागेश्वर में 8 जनवरी को होगा कोरोना बैक्सीन का डायरन,2715 हैल्थ केयर वकर्स और 53 हजार 50 वर्ष से अधिक लोगो का होना है वैक्सिनेशन

 

बागेश्वर । कोरोना वैक्सीन हेतु जनपद में 08 जनवरी को 10 वैक्सीनेशन सार्इट पर ड्रार्इरन किये जाने से संबंधित जिलाधिकारी विनीत कुमार द्वारा संबंधित अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक ली गयी। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा जनपद में कोरोना बैक्सीन हेतु की जाने वाली ड्रार्इरन एवं आगामी समय में कोरोना वैक्सीनेशन हेतु नियुक्त किये गये अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि संबंधित अधिकारी यह अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करें कि वैक्सीनेशन सार्इट पर पर्याप्त मात्रा में फर्नीचर बिजली, इंटरनेट एवं शौचालय आदि की व्यवस्था हो ताकि वैक्सीनेशन हेतु आने वाले व्यक्तियों को किसी प्रकार की समस्या का सामना करना न पड़े।
उल्लेखनीय है कि कोरोना वैक्सीनेशन हेतु प्रथम चरण के रूप में 2715 हैल्थ केयर वकर्स को टीकाकरण किया जाना है जिसमें आगामी चरण में जनपद के लगभग 3 हजार फ्रंट लार्इन वर्कर तथा 53 हजार 50 वर्ष से अधिक आयु एवं कोमोर्डिक व्यक्तियों को टीकाकरण किया जाना प्रस्तावित है, इस हेतु जनपद में 40 वैक्सीनेशन सार्इट का चिन्हीकरण किया जा चुका है।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को को निर्देशित करते हुए कहा कि वह ये अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करें कि ड्रार्इरन हेतु चिन्हित 10 वैक्सीनेशन सेंटर में तैनात किये जाने वाले आशा/एनएनएम आदि को इनके द्वारा किये जाने वाले कार्यो के संबंध में भली भॉति प्रशिक्षित किया जाय साथ ही ड्रार्इरन हेतु चयनित व्यक्तियों की सूची संबंधित वैक्सीनेशन केन्द्र पर समय में उपलब्ध हो ताकि वहॉ तैनात सुरक्षाकर्मी लिस्ट के अनुरूप वैक्सीनेशन हेतु आने वाले व्यक्तियों का प्रमाणीकरण आदि किया जा सके। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि ड्रार्इरन हेतु वैक्सीनेशन केन्द्रों पर तैनात किये जाने वाले वैक्सीनेशन आफिसर एवं अन्य स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को ड्रार्इरन के दौरान की जाने वाली सभी क्रियाकलापों जैसे प्रयोग किये गये सिरींज का उचित निस्तारण, वैक्सीनेशन होने के पश्चात 30 मिनट तक व्यक्ति का आब्जरवेशन एवं आने विभिन्न चिकित्सीय उपकरण आदि की उपलब्धता जैसे कार्यों को गम्भीरतापूर्वक करना सुनिश्चित करें।
उन्होंने नोडल अधिकारी मीडिया को निर्देशित करते हुए कहा कि वे ड्रार्इरन के दौरान मीडिया मैनेजमेंट हेतु जारी दिशा निर्देशों के अनुरूप मीडिया कर्मी को वैक्सीनेशन रूम में प्रवेश न करने के संबंध में उन्हें भली भॉति रूप से अवगत कराया जाय ताकि ड्रार्इरन के कार्य को सुविधाजनक रूप में संपादित किया जा सके। जिलाधिकारी ने ब्लाक टास्क फोर्स एवं आर्इ आर टी के अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि वे कोरोना वैक्सीन हेतु किये जाने वाले ड्रार्इरन में अपने अपने ड्यूटी के अनुरूप संबंधित सार्इट का धरातलीय निरीक्षण करते हुए निर्धारित गार्इडलार्इन के अनुरूप आवश्यक कार्यवाही करें। जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी लाजिस्टीक को निर्देशित करते हुए कहा कि वे यह सुनिश्चित करायें कि प्रत्येक वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीनेशन हेतु आने वाले व्यक्तियों के लिए पर्याप्त मात्रा में फर्नीचर आदि उपलब्ध हो साथ ही निर्धारित मानक के अनुरूप वैक्सीनेशन सार्इट में वेटिंग रूम, वैक्सीनेशन रूम एवं आब्जरवेशन रूम जैसे तीनों कक्ष सही दशा में हों।
जिलाधिकारी ने संबंधित सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि 08 जनवरी को जनपद में कोरोना वैक्सीनेशन के संबंध में किये जाने वाले डार्इरन के संबंध में समस्त अधिकारी इमानदारी पूर्वक अपने कार्यों का निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि ड्रार्इरन हेतु ऑबजरवर की भी नियुक्ति की जायेगी जो डार्इरन के दौरान आने वाले विभिन्न तकनीकी एवं सामान्य समस्याओं के बारे में नोट करते हुए डार्इरन के उपरान्त अपना फीडबैक उपलब्ध करायेंगे ताकि भविष्य में कोरोना वैक्सीनेशन के कार्य को सुगमता पूर्वक संपादित किया जा सके।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी हेमंत कुमार वर्मा, उप जिलाधिकारी बागेश्वर योगेन्द्र सिंह, कपकोट प्रमोद कुमार, गरूड़ जयवर्द्धन शर्मा, अपर परियोजना निदेशक शिल्पी पन्त, वीडियो बागेश्वर आलोक भण्डारी सहित संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी आदि मौजूद रहें।
बैठक में ड्रार्इरन से संबंधित विभिन्न क्रियाकलापों के संबंध में पावर प्वार्इंट के माध्यम से डब्लू एच ओ के एसएमओ डॉ0 मन्नू खन्न ने विस्तार पूर्वक जानकारी दी गयी।

Shares
error: Content is protected !!