March 7, 2021

पुलिस के हत्थे चढ़ा नकली सीआइडी गिरोह

रुद्रपुर ( आखरीआंख समाचार ) खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताकर रंगदारी मांगने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस ने गिरोह के सरगना समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया जिनमें एक महिला भी शामिल है जबकि तीन लोग फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। पुलिस ने तीनों के कब्जे से भारी मात्र में सामान बरामद किया है।
मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि गत दिनों कुछ लोगों ने खटीमा के एक आदमी को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बनाकर मेट्रोपोलिस के एक फ्रलैट में उसे बंधक बना लिया था और 2 लाख रूपए की रंगदारी मांगी थी। जिसके चलते उस व्यक्ति ने अपने दोस्त से 2 लाख रूपए मंगाकर उन्हें दिये जिस पर उक्त लोग पैसे प्राप्त होने के बाद उसे सिडकुल के समीप सुनसान जगह पर छोड़कर भाग गये थे। इस मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी और एक टीम गठित की थी। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए विश्नोई सराय थाना नगीना बिजनौर उत्तर प्रदेश व हाल फ्रलैट नं- 13 बी 1 मेट्रोपोलिस सिटी  पंतनगर निवासी प्रणव सिंह विश्नोई पुत्र अभय सिंह विश्नोई, श्रीमती पूनम शर्मा पत्नी दर्शन शर्मा और ग्राम जवाहरपुर थाना बहेड़ी बरेली व हाल तराई विहार कालोनी फाजलपुर महरौला निवासी विकास गंगवार पुत्र बेलाशंकर को गिरफ्रतार कर लिया। उनके कब्जे से कार संख्या यूपी-14एडीध् 0389, दो लैपटॉप, प्रिंटर, कीबोर्ड, ब्राडबैंड, लैंडलाइन फोन, मेडल, नेट सेटर, एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, पेनकार्ड, डीएल, यूपी पुलिस का मोनोग्राम, मोहरें, चेकबुक, हार्डडिस्क, सीआईडीबी के कार्ड, एक इंक बोतल, रजिस्टर, होटल बिल, शपथ पत्र, डायरी, कानून की किताबें और फर्जी आईडी बरामद की गयीं। पुलिस पूछताछ में उन्होंने बताया कि वह पिछले चार माह से होटल सोबती कान्टिनेंटल, ली कासल व होटल उदय रेजीडेंसी में क्राइम ब्रांच के अधिकारी बनकर रूके थे जिसका सरगना प्रणव विश्नोई है और वर्तमान में मेट्रोपोलिस के फ्रलैट में रहकर इस गिरोह की महिला सदस्यों द्वारा लोगों को अपने जाल में फंसाकर क्राइम ब्रांच का अधिकारी बनकर डरा धमकाकर धन वसूली की जाती थी। इस कार्य में संलिप्त नगीना निवासी अभिषेक गुपता उर्फ नावेद, रामपुर निवासी फैजान पाशा और सामिया लेक सिटी निवासी सिमरन फरार हैं। पुलिस उनसे पूछताछ में जुट गयी है। मामले का खुलासा करने वाली टीम में एसएचओ संजय पाठक, एसआई केजी मठपाल, रोशनी रावत, कां- किशोर फर्त्याल, महेंद्र डंगवाल, दिलीप सिंह फर्त्याल, ललिता प्रसाद, हरी सिंह, चन्द्रशेखर जोशी, अनीसा आर्या शामिल थे।

You may have missed

Shares
error: Content is protected !!