Wed. Nov 13th, 2019

पुनर्मतगणना की मांग को लेकर घनसाली में भूख हड़ताल पर बैठे छात्र 

नई टिहरी। बालगंगा महाविद्यालय सेंदुल में महासचिव पद पर पुनर्मतगणना की मांग को लेकर एबीवीपी से जुड़े छात्र-छात्राओं ने महाविद्यालय परिसर में भूख हड़ताल पर बैठे हैं। छात्रों के आंदोलन को देखते हुए एसडीएम घनसाली व सीओ टिहरी के नेतृत्व में कॉलेज में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। छात्रों ने पुनर्मतगणना होने तक भूख हड़ताल जारी रखने की चेतावनी दी है। बीते सोमवार को संपन्न हुए छात्रसंघ चुनाव में महासचिव को छोड़ बाकी पदों पर एबीवीपी के प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की। लेकिन महासचिव पद पर संगठन की प्रत्याशी सविता एनएसयूआई के प्रत्याशी नरेंद्र रावत से मात्र 6 वोट से हार गई। जिसके बाद एबीवीपी के छात्रों ने पुनर्मतगणना की मांग को लेकर प्राचार्य कक्ष में भूख हड़ताल शुरू कर दी। कॉलेज प्रशासन की सूचना पर देर शाम से कॉलेज में पीएसी तैनात कर दी गई। मंगलवार को एसडीएम एफआर चौहान व सीओ धन सिंह तोमर ने छात्रों से वार्ता करने की कोशिश की, लेकिन छात्र पुनर्मतगणना की मांग पर अड़े रहे। एसडीएम का कहना है कि मतगणना के समय ही आपत्ति जताकर फिर से मतगणना कराई जानी चाहिए थी। उन्होंने छात्रों को पुनर्मतगणना को लेकर न्यायालय में जाने की सलाह दी। वहीं पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष अजय कंसवाल का कहना है कि कॉलेज प्रशासन की ओर से महासचिव पद पर 53 वोट अवैध घोषित किए गए हैं। जिनकी जांच की जानी चाहिए। आरोप लगाया कि महाविद्यालय प्रशासन की मिलीभगत से महासचिव प्रत्याशी को हराया गया है। उन्होंने दोबारा मतगणना न होने तक भूख हड़ताल जारी रखने की चेतावनी दी है। धरने पर बैठने वालों में गौरव सजवाण,अनूप पैन्यूली, सविता, अंजलि चौहान, पूजा बिष्ट, पूनम, सुभाष, सिमरन आदि शामिल रहे।

Shares
error: Content is protected !!