May 30, 2020

डिग्री कालेज बागेश्वर : व्हाट्एप नोट्स ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर मजाक

बागेश्वर। डिग्री कॉलेज में शुरू की गई ऑनलाइन कक्षाओं का विरोध शुरू हो गया है। छात्रों ने कहा महाविद्यालय में ऑनलाइन शिक्षा के लिए संसाधनों की कमी है। केवल व्हाट्एप के माध्यम से नोट्स बनाकर दिए जा रहे हैं। जो ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर मजाक से अधिक नहीं है। जिले के कई क्षेत्रों में मोबाइल नेटवर्क नहीं होने के कारण छात्रों को इसका भी लाभ नहीं मिल रहा है। उन्होंने सरकार से भविष्य को देखते हुए छात्रों को अगली कक्षाओं में प्रोन्नत करने की मांग की। गुरुवार को छात्रसंघ अध्यक्ष सौरभ जोशी के नेतृत्व में छात्रों ने एसडीएम के माध्यम से उच शिक्षा मंत्री को ज्ञापन भेजा। उन्होंने कहा सरकार ने 10 जून तक ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से कक्षाएं चलाकर कोर्स पूरा करने का आदेश दिया है। जिसे देखते हुए महाविद्यालय में व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर नोट्स दिए जा रहे हैं। इस तरह की पढ़ाई छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करना है। कहा जिले के कई गांवों में मोबाइल नेटवर्क की सुविधा नहीं है। इंटरनेट तो दूर वहां लोगों का मोबाइल पर बात करना भी संभव नहीं है। ऐसे में किस तरह से ऑनलाइन पढ़ाई का छात्रों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा वर्तमान में कोरोना महाकारी देश में भयानक रूप लेती जा रही है। जिसके चलते लॉकडाउन लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में छात्रों के साल बर्बाद होने से रोकने के लिए उन्हें अगली कक्षाओं में प्रोन्नत करना चाहिए। इस दौरान उन्होंने यूजीसी के निर्णयानुसार छात्रों को पूर्व रिकॉर्ड और वर्तमान आंतरिक परीक्षा के आधार पर अधिकतम अंक देने और अगले सेमेस्टर के लिए प्रोन्नत करने की मांग की।

Shares
error: Content is protected !!