जनता दरवार में पहुचे 33 फरियादी, अधिकांश का मौके पर हुआ निस्तारण

49

बागेश्वर 1 जनता की समस्याओं के त्वरित निस्तारण करने के लिए कलैक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी रंजना राजगुरू की अध्यक्षता में जन सुनवार्इ आयोजित की गयी जिसमें जनपद से आये विभिन्न फरियादियों के द्वारा 33 शिकायतें दर्ज करार्इ गयी जिसमें अधिकतर शिकायतों का जिलाधिकारी ने मौके पर निराकरण कर शेष शिकायतों का अनुश्रवण कर संबंधित अधिकारियों को तत्काल आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये। जिलाधिकारी रंजना राजगुरू ने जनसुनवार्इ में उपस्थित अधिकारियों से कहा कि जनता मिलन कार्यक्रम में प्राप्त होने वाले शिकायतों का निस्तारण एक सप्ताह के भीतर करना सुनिश्चित करें, तथा इसकी सूचना शिकायतकर्ता को भी उपलब्ध कराते हुए जिला कार्यालय को भी उपलब्ध कराने को कहा। जिलाधिकारी ने फरियादियों को बारी-बारी से बुलाकर उनसे सीधे संवाद करते हुए उनकी समस्याऐं सुनी। जनता मिलन कार्यक्रम में समस्त ग्रामवासी भनार ने शिकायत कर कहा कि ग्राम पंचायत भनार में रा0उ0मा0वि0 में अध्यापको की लंबे समय से कमी बनी हुर्इ है जिसके लिए उन्होंने अध्यापको की नियुक्ति की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। ग्रामवासियों ने अपनी दूसरी शिकायत में कहा कि ग्राम पंचायत भनार में संचार व्यवस्था ठीक नही है जिससे ग्रामीणों को संचार सेवा से वंचित रहना पड रहा है इसके लिए उन्होंने ग्राम पंचायत में मोबार्इल टॉवर लगाने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने जूनियर टेलीकॉम आफीसर बीएसएनएल को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये और ग्रामवासियों ने स्वीकृति मोटर मार्ग नौकाना भनार से बसोरा भनार तथा डानाटिकटा मोटर मार्ग का कार्य प्रारम्भ कराने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 पीएमजीएसवार्इ को तत्काल कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिये। हडवाड के अभिभावकों ने शिकायत कर कहा कि रा0र्इ0का0हडबाड में लंबे समय से भौतिक विज्ञान, अर्थशास्त्र के प्रवक्ता व एलटी के हिंदी के अध्यापक नही है तथा विद्यालय का भवन भी जीर्ण-शीर्ण हालात में है इसके लिए उन्होंने विद्यालय में अध्यापको की नियुक्ति कराने व विद्यालय भवन के मरम्मत का कार्य कराने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने जिला शिक्षा अधिकारी को मौका मुआयना करके आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये तथा अध्यापको की तैनाती के लिए भी आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। ग्राम सभा बघर के ग्रामीणों ने अपनी शिकायती पत्र में कहा कि सौधारा में पेयजल लार्इन ध्वस्त हो चुकी है जिससे क्षेत्र के लगभग 120 परिवार पेयजल की समस्या से जूझ रहे है इसके लिए उन्होंने पेयजल लार्इन को ठीक कराने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को संबधी पेयजल लार्इन का निरीक्षण कराते हुए खंड विकास अधिकारी के माध्यम से प्रस्ताव तैयार कराने के निर्देश दिये।बहादुर राम निवासी बजीना ने शिकायत कर कहा कि लोनिवि द्वारा सड़क निर्माण के दौरान उनके मकान की सुरक्षा दीवार क्षतिग्रस्त हो गयी है इसके लिए उन्होंने सुरक्षा दीवार लगाने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 लोनिवि को जांच कर सुरक्षा दीवार लगाने के लिए आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये। शेर सिंह निवासी कुलॉऊ ने शिकायत कर कहा कि उनके पडोसियों के द्वारा उनकी सिंचित खेती के लिए आने वाले पानी को रोका जा रहा है जिसके लिए उन्होंने आवश्यक कार्यवाही करने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी गरूड़ को स्थलीय निरीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। चंचल सिंह निवासी जार्ती ने अपने शिकायती पत्र में कहा कि बैडामझेडा से जार्ती मोटर मार्ग से गांव के 10 परिवारों को भूस्खलन का खतरा बना हुआ है इसके लिए उन्होंने भूस्खलन वाले स्थान पर संबधित विभाग से सुरक्षा संबधी कार्य कराये जाने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने संबधित विभाग को स्थलीय निरीक्षण करते हुए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। नवीन नाथ निवासी मल्ला रामपुर ने शिकायत कर कहा कि दैवीय आपदा से उनका आवासीय भवन क्षतिग्रस्त हो गया था जो अभी तक नही बन पाया है जिसके लिए उन्होंने क्षतिग्रस्त मकान के मरम्मत एवं पुनर्निर्माण हेतु दैवीय आपदा कोष एवं मुख्य मंत्री विवेकाधीन कोष से आर्थिक सहायता की मांग की। जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी गरूड़ को जॉच कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। नवीन नाथ ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि उनका 07 वष्र्ाीय पुत्र शारीरिक रूप से कमजोर है इसके लिए उन्होंने उसके र्इलाज हेतु आर्थिक सहायता दिये जाने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने बच्चे के स्वास्थ परीक्षण के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी व जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास को आंगनबाडी केंद्र में बच्चे के पंजीकरण के लिए आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये।जनता मिलन कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनता मिलन में जो भी समस्या एवं शिकायतें प्राप्त हुर्इ है उनके प्रति सभी अधिकारी संवेदनशील रहते हुए तत्काल प्राप्त शिकायतो का निराकरण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिये है कि जिन अधिकारियों को संबंधित योजनाओं के स्थलीय निरीक्षण करने के निर्देश दिये है वे समयसीमा के अन्तर्गत स्थलीय निरीक्षण करते हुए आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये है कि अत्यधिक वर्षा के कारण जिन विभागों की जो भी परिसम्पत्तियां क्षतिग्रस्त हो रही है उनका तत्काल आंकलन तैयार कर प्रस्ताव उपलब्ध कराये ताकि संबधित परियोजना के पुनर्निर्माण के लिए धनराशि स्वीकृति की जा सकें।जनसुनवार्इ में मुख्य विकास अधिकारी एस.एस.एस.पांगती, उप जिलाधिकारी बागेश्वर राकेश चन्द्र तिवारी, जिला विकास अधिकारी के.एन.तिवारी, मुख्य चिकित्साधिकारी एस.के.शाह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 उदय शंकर, अपर परियोजना निर्देशक डीआरडीए शिल्पी पन्त, अधि0अभि0 विद्युत भाष्करानन्द पाण्डेय, लोनिवि कपकोट संजय पाण्ड़े, जिला शिक्षा अधिकारी पदमेंद्र सकलानी, मुख्य कृषि अधिकारी बी.पी.मौर्य, जिला समाज कल्याण अधिकारी एन.एस.गस्याल, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा सहित समस्त जनपदस्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

error: Content is protected !!